ALL NATIONAL UTTARAKHAND CRIME DELHI WORLD ENTERTAINMENT POLITICS SPORTS HIMACHAL BUSINESS
मध्य प्रदेश में 12 घंटे में छह नवजातों की मौत
January 15, 2020 • Utkarsh • NATIONAL

राजस्थान के कोटा और गुजरात के राजकोट के बाद अब मध्यप्रदेश के शहडोल में 12 घंटे के अंदर छह नवजात बच्चों की मौत हो गई। जिन बच्चों की मौत हुई है, उनमें से दो बच्चे वॉर्ड और चार एसएनसीयू में भर्ती थे। एसएनसीयू में भर्ती नवजात बच्चों की उम्र एक महीने से भी कम थी, वहीं बच्चा वार्ड में भर्ती बच्चों की उम्र दो-तीन महीने की बताई जा रही है। बताया गया है कि सभी बच्चों को निमोनिया हुआ था। वहीं, अस्पताल में एक साथ छह बच्चों की मौत से हड़कंप मच गया है। 

राज्य के स्वास्थ्य मंत्री तुलसी सिलावट ने शहडोल में हुए बच्चों की मौत की घटनाओं की जांच के आदेश दिए हैं। सिलावट ने पीड़ित परिजनों के प्रति संवेदनाएं जाहिर की है। उन्होंने जिला क्लेक्टरों और मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारियों (सीएमएचओ) को इन मामलों की जांच कर कार्रवाई के आदेश दिए हैं। बच्चों की मौत की सूचना मिलते ही पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री कमलेश्वर पटेल छह बच्चों की मौत के बाद मंगलवार को सुबह शहडोल जिला चिकित्सालय पहुंचे। उन्होंने बच्चों के परिजनों से मुलाकात की और परिवार के प्रति संवेदनाएं व्यक्त की। साथ ही घटना के जांच के आदेश दिए। 

सीएमएचओ डॉ राजेश पांडेय ने इस मामले में पत्रकारों को बताया कि छह में से दो बच्चे वेंटीलेटर पर थे और एक गंभीर था, जिन्हे बचाने का प्रयास किया जा रहा था, लेकिन बचा नहीं सके। उन्होंने तीन अन्य बच्चों को निमोनिया से पीड़ित होना बताया, जो उमरिया से रेफर होकर यहां आए थे, जिनकी जिला अस्पताल में इलाज के दौरान मृत्यु हो गई है। उन्होंने कहा कि शुरूआती जांच में लापरवाही प्रतीत हो रही है, जांच के बाद पूरी स्थिति स्पष्ट हो सकेगी।