ALL NATIONAL UTTARAKHAND CRIME DELHI WORLD ENTERTAINMENT POLITICS SPORTS HIMACHAL BUSINESS
श्रमिकों के लिए दिल्ली के सरकारी स्कूल को किया शेल्टर होम में तब्दील
March 29, 2020 • Utkarsh • DELHI

कोरोना वायरस (COVID-19) राष्ट्रव्यापी लॉकडाउन के बीच बेघर और प्रवासी श्रमिकों को रहने के लिए दिल्ली सरकार के कई स्कूलों को अस्थायी आश्रय घरों में परिवर्तित किया जा रहा है। CBSE ने 21,00,000 रुपये का योगदान पीएम केयर में 21,00,000 रुपये का योगदान करने का फैसला किया है। कई कर्मचारी अपनी सैलरी दान करने के लिए स्वेच्छा से आगे आए हैं। समूह 'ए' के कर्मचारियों ने दो दिन का वेतन और समूह 'बी' और 'सी' के कर्मचारियों ने एक दिन का वेतन दान किया है। स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार भारत में कोरोना वायरस (COVID-19) के 979 मामले सामने आए हैं। वहीं 25 लोगों की मौत हो गई। 86 लोग ठीक हो गए हैं। राष्ट्रव्यापी लॉकडाउन के बीच बेघर और प्रवासी श्रमिकों को रहने के लिए दिल्ली सरकार के कई स्कूलों को अस्थायी आश्रय घरों में परिवर्तित किया जा रहा है। पटपड़गंज और गाजीपुर में स्कूलों से दृश्य।