ALL NATIONAL UTTARAKHAND CRIME DELHI WORLD ENTERTAINMENT POLITICS SPORTS HIMACHAL BUSINESS
विशाखापट्टनम में फैक्ट्री से गैस लीक होने से अब तक 11 लोगों की मौत
May 7, 2020 • Utkarsh • NATIONAL

आंध्र प्रदेश के विशाखापट्टनम में एक फैक्ट्री में आज सुबह गैस रिसाव होने से एक बड़ा हादसा हो गया। गैस लीक होने की घटना में अब तक 11 लोगों की मौत हो चुकी है। विशाखापट्टनम के आरआर वेंकटपुरम गांव में एक फैक्ट्री में गैस रिसाव की यह घटना सामने आई। आरआर वेंकटपुरम गांव की एलजी पॉलिमर उद्योग में स्टाइरीन(Styrene) गैस रिसाव से हुए हादसे में एक बच्चे सहित कम से कम 11 लोगों की मौत हो चुकी है।इस हादसे के बाद 800 लोगों को अस्पताल में भर्ती कराया गया।

गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रुपाणी के निजी सचिव अश्वनी कुमार ने जानकारी दी है कि विशाखापट्टनम संयंत्र में गैस रिसाव को बेअसर करने के लिए आंध्र प्रदेश सरकार द्वारा दमन से 500 किलो पैरा-तृतीयक ब्यूटाइल कैटेचोल (PTBC) रसायन का एयरलिफ्ट किया जाएगा। राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल (NDRF) के महानिदेशक एसएन प्रधान ने जानकारी दी है कि विशाखापट्टनम गैस लीक हादसे में मरने वालों की संख्या बढ़कर 11 हो गई है।NDRF के महानिदेशक एसएन प्रधान ने बताया कि फैक्ट्री से हो रहा लीकेज अब कम से कम है, लेकिन एनडीआरएफ तब तक रहेंगी जब तक यह पूरी तरह से खत्म नहीं हो जाता है। हादसे पर राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन प्राधिकरण(National Disaster Management Authority) ने प्रेस ब्रीफिंग के दौरान बताया कि यह एक रासायनिक आपदा है, प्रतिक्रिया के लिए रासायनिक पक्ष पर, रासायनिक प्रबंधन पक्ष पर, चिकित्सा पक्ष के साथ-साथ निकासी पक्ष पर विशेषज्ञता की आवश्यकता होती है। प्रधानमंत्री ने मीटिंग में इस बात का जायजा लिया कि बोर्ड की प्रतिक्रिया क्या होनी चाहिए।

विखाखापट्टनम गैस लीक हादसे के बाद अस्पताल में भर्ती मरीजों की मदद के लिए नौसेना आगे आई है। भारतीय नौसेना ने जानकारी दी कि विशाखापट्टनम के किंग जॉर्ज अस्पताल को 5 और पोर्टेबल मल्टी-फीड ऑक्सीजन मैनिफोल्ड सेट प्रदान किए गए। नेवल डॉकयार्ड, विशाखापत्तनम से तकनीकी दल आज सुबह बड़ी संख्या में रोगियों को ऑक्सीजन प्रदान करने के लिए और सहायता करने के लिए अस्पताल में मौजूद है। नौसेना के मुताबिक पोर्टेबल मल्टीफ़ेड ऑक्सीजन मैनिफोल्ड सिस्टम को COVID-19 महामारी के लिए छह रोगियों को ऑक्सीजन की आपूर्ति करने के लिए एक जंबो आकार ऑक्सीजन बोतल को सक्षम करने के लिए डिज़ाइन किया गया था। COVID नामित अस्पतालों में उपयोग के लिए जिला प्रशासन को 25 ऐसे सेट प्रदान किए गए थे।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर बताया है कि उन्होंने विशाखापट्टनम में स्थिति के संबंध में गृह मंत्रालयऔर एनडीएमए (राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन प्राधिकरण) के अधिकारियों से बात की है। इस घटना की कड़ी निगरानी की जा रही है।मैं विशाखापट्टनम में सभी की सुरक्षा और कल्याण के लिए प्रार्थना करता हूं।